अगर आप भी ले रहे हैं अटल पेंशन योजना का लाभ तो 30 सितंबर तक जमा कर दें अपनी बकाया किस्त, ऐसा नहीं करने पर देना होगा जुर्माना

via Dainik Bhaskar
https://ift.tt/3hZC6Re



अगर आपने अटल पेंशन योजना (APY) का लाभ ले रखा है तो 30 सितंबर से पहले अपने APY खाते को नियमित करा लें। क्योंकि ऐसा न करने पर आपको जुर्माना देना होगा। कोरोना महामारी में लोगों को राहत देते हुए सरकार ने जून 2020 तक अटल पेंशन योजना (APY) योगदान के लिए ऑटो-डेबिट बंद कर दिया था, इसके बाद ऑटो-डेबिट सुविधा 1 जुलाई से फिर से शुरू की गई थी। ग्राहकों को 30 सितंबर तक अपना बकाया योगदान जमा करना है।

तुरंत करें चेक
ऐसे सब्सक्राइबर्स को इसका विशेष ध्यान रखना चाहिए जो मासिक, तिमाही या छमाही पेमेंट करते आए हैं, और जिनका भुगतान मई या जून में कटता है। ऐसे में पूरी संभावना है कि इन सब्सक्राइबर्स का APY में भुगतान नहीं हुआ हो। क्योंकि यही दो महीने थे जब अटल पेंशन योजना में ऑटो डेबिट सुविधा पूरी तरह से सस्पेंड थी। ऐसे सब्सक्राइबर्स को तुरंत चेक करना चाहिए कि उनकी पेमेंट गई है या नहीं, अगर किश्त नहीं गई है तो उसका भुगतान तुरंत करें ताकि पेनाल्टी से बचा जा सके।

कैसे पता करें क़िस्त कटी या नहीं?
अटल पेंशन योजना में सारी किश्तें समय पर गईं हैं या नहीं, ये चेक करने के लिए APY ट्रांजैक्शन निकालें या इसमें रजिस्टर्ड बैंक अकाउंट क स्टेटमेंट निकालें। इससे ये साफ हो जाएगा कि सब्सक्राइबर की किश्त कब तक कटी है। इससे अलावा इसकी जानकारी लेने के लिए https://npslite nsdl.com/CRAlite/EPranAPYOnloadAction पर जाएं। यहां से सब्सक्राइबर अपना APY स्टेटमेंट डाउनलोड कर सकते हैं। APY मोबाइल ऐप से भी स्टेटमेंट को देखा जा सकता है। APY स्टेटमेंट डाउनलोड होने के बाद ये जरूर चेक करें कि आपकी सभी किश्तें कटी हैं या नहीं।

कितनी देनी होगी पेनल्टी
पेंशन फंड नियामक पीएफआरडीए के सर्कुलर के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान टाले गए अंशदान का योगदान 1 जुलाई से 30 सितंबर 2020 के बीच किया जा सकता है। अंशधारकों को कोई पेनाल्टी स्वरूप ब्याज भी नहीं देना है। लेकिन इसके बाद पैसा जमा करने वालों से बकाया पर 1 फीसदी का ब्याज वसूला जाएगा।

2.40 करोड़ लोग ले रहे इस योजना का लाभ
सरकार की 'अटल पेंशन योजना' में जुड़ने वालों का आंकड़ा 2.40 करोड़ पर पहुंच गया है। पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (PFRDA) के अनुसार इस वित्तीय वर्ष में अगस्त महीने तक इसमें 17 लाख लोग जुड़े हैं। PFRDA के अनुसार इस स्कीम से जुड़ने वालों में पुरुषों और महिलाओं का अनुपात 57:43 का है। इस योजना के शुरुआत 9 मई, 2015 को हुई थी। पिछले वित्त वर्ष यानी 2018-19 में इस योजना से 70 लाख लोग जुड़े थे।

क्या है अटल पेंशन योजना ?
इसके तहत 60 साल का होने पर हर महीने 1000 से लेकर 5000 रुपए की पेंशन मिलती है। इसमें 18 साल से 40 साल तक का व्यक्ति इसमें निवेश कर सकता है। कोई शख्स इस स्कीम को लेता है तो उसे कम से कम 20 साल निवेश करना होगा। स्कीम में शामिल होने के लिए सेविंग बैंक अकाउंट, आधार और एक्टिव मोबाइल नंबर का होना जरूरी है। योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


2.40 करोड़ से ज्यादा लोग इस योजना से जुड़े हुए हैं