कमर्शियल कोल ब्लॉक माइनिंग की बिड कल खुलेगी, 38 खदानों के लिए कुल 278 टेंडर मिले, ये कंपनियां हैं लाइन में

via Dainik Bhaskar
https://ift.tt/3cMZ2lJ



कमर्शियल कोल ब्लॉक माइनिंग के लिए नीलामी कल से खुलेंगी। सरकारी आंकड़े के मुताबिक नीलामी के लिए रखे गए कोयला ब्लॉक को लेकर संभावित बोली लगाने कंपनियों ने 278 टेंडर खरीदे हैं। सरकार इसके जरिए 38 खदानों की नीलामी करेगी। नीलामी को 30 सितंबर को सुबह 10 बजे से खोली जाएगी।

सुप्रीम कोर्ट के कमर्शियल कोल ब्लॉक माइनिंग पर रोक लगाने से इनकार के बाद कोल ब्लॉक माइनिंग की कमर्शियल नीलामी का रास्ता साफ हो गया है। इसके बाद प्राइवेट कंपनियों के लिए नीलामी में शामिल होने अब आसान हो जाएगा। प्राइवेट कंपनियां जैसे वेदांता ग्रुप, अदानी ग्रुप, जिंदल स्टील लिमिटेड और जेएसडब्ल्यू इस नीलामी में शामिल हो सकती हैं।

बांदेर ब्लॉक को वापस लिया

संशोधन के तहत लिस्ट में 3 ब्लॉक जोड़े गए हैं और लिस्ट से 5 ब्लॉक हटाए गए हैं। जोड़े गए 3 ब्लॉक में डोलेसारा, जारेकेला और झारपालम-तनगरघाट (छत्तीसगढ़) शामिल हैं। हटाए गए 5 ब्लॉक में मोर्गा साउथ, फतेहपुर, मदनपुर (नॉर्थ), मोर्गा-2 और सायंग (छत्तीसगढ़) शामिल हैं। इससे पहले, कोयला मंत्रालय ने महाराष्ट्र के चंद्रपुर जिले में स्थित बांदेर ब्लॉक को वापस लिया था। इसका कारण ब्लॉक का पर्यावरण रूप से संवेदनशील तदोबा अंधारी बाघ अभयारण्य में स्थित होना है।

छत्तीसगढ़ में 7 खदानों की नीलामी होगी

मंत्रालय ने कहा कि एमएमडीआर एक्ट-1957 के तहत नीलामी के पहले राउंड में डोलेसारा, जारेकेला और झारपालम-तनगरघाट कोयला खदानों को जोड़ा गया है। मंत्रालय ने साथ ही कहा कि एमएमडीआर एक्ट-1957 के तहत नीलामी के पहले राउंड में से मोर्गा साउथ कोल माइन को हटाया गया है। साथ ही सीएम(एसपी) एक्ट-2015 के तहत नीलामी 11वें राउंड में से फतेहपुर ईस्ट, मदनपुर (नॉर्थ), मोर्गा-2 और सायंग कोयला खदानों को हटाया गया है। रिवाइज्ड लिस्ट के मुताबिक छत्तीसगढ़ में 7 खदानों की नीलामी होगी।

खदानों की नीलामी की प्रक्रिया 18 जून को शुरू हुई थी

सरकार ने 38 कोयला खदानों की नीलामी की प्रक्रिया 18 जून 2020 को शुरू की थी। मंत्रालय ने पहले 41 खदानों को नीलाम करने की घोषणा की थी। इसका मकसद कोयला सेक्टर को खोलना और देश में कमर्शियल कोल माइनिंग शुरू करना है। 41 खदानों की लिस्ट सीएम(एसपी) एक्ट-2015 के तहत नीलामी 11वें राउंड और माइंस एंड मिनरल्स (डेवलपमेंट एंड रेगुलेशन) एक्ट-1957 के तहत नीलामी के पहले राउंड के तहत जारी की गई थी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


मंत्रालय ने कहा कि एमएमडीआर एक्ट-1957 के तहत नीलामी के पहले राउंड में डोलेसारा, जारेकेला और झारपालम-तनगरघाट कोयला खदानों को जोड़ा गया है।